• 7/24/2019

मुख्य खबर

Share this news on

सायना और सिंधु के बीच होने वाले रोमांचक मुकाबले के लिए हुए तैयार

Image

Varsha

/

1/8/2019 9:28:12 PM

बेंगलुरू, 8 जनवरी । वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के चौथे सीजन में बुधवार को अंतिम डबल हेडर खेला जाएगा। अब जबकि चौथा सीजन समापन की ओर बढ़ रहा है, अंतिम डबल हेडर के रोमांच में पहले मौजूदा चैम्पियन हैदराबाद हंटर्स का सामना तालिका में सबसे नीचे चल रहे दिल्ली डैशर्स के साथ होगा जबकि दूसरे मुकाबले में अवध वारियर्स टीम का सामना नार्थ ईस्ट वॉरियर्स से होगा। इस सीजन में हंटर्स टीम शानदार फार्म में है। उसने अब तक अपने पांच में से चार ट्रम्प मैच जीते हैं। पीवी सिंधु के नेतृत्व में खेल रही इस टीम में मार्क कालोउ और डायनामिक डबल्स खिलाड़ी बोडिन इसारा जैसे खिलाड़ी हैं। अंत तालिका में सबसे ऊपर चल रही यह टीम एक और जीत के साथ अपना स्थान कायम रखना चाहेगी। यह टीम पहले ही नॉकआउट में पहुंच चुकी है। इस अहम मुकाबले को लेकर सिंधु ने कहा, ‘‘हमारी टीम अच्छा खेल रही है। हमें उम्मीद है कि बेंगलुरू में बड़ी संख्या में लोग हमारा खेल देखने आएंगे। पुणे में प्रशंसकों ने बड़ी संख्या में स्टेडियम का रुख किया था और अब मैं बेंगलुरू में भी इसी तरह के नजारे और समर्थन का इंतजार कर रही हूं।’’ दूसरी ओर, दिल्ली डैशर्स टीम के लिए यह सीजन अच्छा नहीं रहा है। यह टीम पांच मैचों से सिर्फ दो अंक जुटा पाई है और अंक तालिका में सबसे नीचे है। पुणे के हाथों अपने अंतिम मैच में 0-5 से हारने के बाद वैसे भी इस टीम का मनोबल काफी गिरा हुआ है लेकिन यह जीत के साथ सीजन की समाप्ति करना चाहेगी और साथ ही साथ कुछ उलटफेर का भी इरादा रखते हुए कोर्ट पर उतरेगी। अवध वॉरियर्स इस सीजन में एकमात्र ऐसी टीम है, जिसने अब तक एक भी ट्रम्प मैच नहीं गंवाया है। ऐसे में जबकि अवध की टीम पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है, यह टीम नार्थईस्ट वॉरियर्स के खिलाफ एक और जीत के साथ अपना लय बरकरार रखना चाहेगी। यह टीम 22 अंकों के साथ तालिका में दूसरे स्थान पर है। दक्षिण कोरियाई दिग्गज सोन वान हो के नेतृत्व में खेल रही यह काफी अच्छी स्थिति में है और इस कारण नार्थईस्ट के लिए उसे हरा पाना कतई आसान नहीं होगा। नार्थईस्ट वॉरियर्स टीम ने हालांकि मिश्रित परिणाम का सामना किया है। इस टीम को कुछ करीबी हार मिली है और इससे उसके आगे जाने की सम्भावनाओं को नुकसान पहुंचा है। सायना नेहवाल के नेतृत्व में खेल रही इस टीम में कई युवा खिलाड़ी हैं और अब यह अपने अगले कुछ मैच जीतते हुए अपनी किस्मत बदलने की कोशिश करेगी। नार्थईस्ट की टीम के लिए सबसे अच्छी बात यह रही है कि इस सीजन में रितुपर्णा दास ने अपने सभी तीन मैच जीते हैं। उन्होंने इस सीजन में क्रिस्टी गिल्मर और इवगेनिया कोसेत्सकाया जैसी दिग्गजों को पराजित किया है। अपने अभियान के अंतिम चरण को लेकर सायना ने कहा, ‘‘हमारी टीम ने अपना श्रेष्ठ दिया है। दुर्भाग्य से हम कुछ करीबी मैच हार गए। कुछ मैचों के परिणाम अपेक्षाकृत नहीं रहे लेकिन हम इतिहास से घबराए नहीं हैं। हम अवध वॉरियर्स के खिलाफ अपना श्रेष्ठ खेल दिखाएंगे और विजय के साथ सीजन का समापन करना चाहेंगे। मैं भी बेंगलुरू में खेलने को लेकर उत्साहित हूं।’’