• 11/14/2019
Latest News

मुख्य खबर

Share this news on

नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना का किया शुभारंभ

Image

Dr.Kumar

/

3/5/2019 9:38:40 PM

नई दिल्ली, 5 मार्च। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंलवार को गुजरात के वस्त्रल में प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन (पीएम-एसवाईएम) योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने लाभार्थियों के बीच पीएम-एसवाईएम पेंशन कार्ड का वितरण भी किया। 3 लाख जन सेवा केंद्रों में 2 करोड़ श्रमिकों ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इस उद्घाटन कार्यक्रम को देखा। इसे ऐतिहासिक दिन बताते हुए प्रधानमंत्री ने पीएम-एसवाईएम योजना को देश के असंगठित क्षेत्र के 42 करोड़ श्रमिकों के प्रति समर्पित किया। उन्होंने कहा कि इस योजना से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को वृद्धावस्था के दौरान 3 हजार रुपये के मासिक पेंशन का लाभ मिलेगा। आजादी के बाद यह पहला अवसर है जब इस प्रकार की योजना की शुरूआत हुई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएम-एसवाईएम योजना के लाभों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि लाभार्थी द्वारा योगदान में दी गई राशि के बराबर की राशि का योगदान केंद्र सरकार द्वारा किया जाएगा। उन्होंने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों से अपील करते हुए कहा कि जिन श्रमिकों की मासिक आय 15 हजार रुपये प्रति महीने से कम है वे निकट के जन सेवा केंद्रों में अपना पंजीकरण करा सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पंजीकरण प्रक्रिया बहुत ही आसान है। इसके लिए सिर्फ एक फॉर्म जमा करना होता है और इसमें आधार नंबर तथा बैंक खाते की जानकारी देनी होती है। जन सेवा केंद्र में पंजीकरण करने से संबंधित लागत का वहन केंद्र सरकार करेगी। यह डिजिटल इंडिया का जादू है। प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे आसपास काम करने वाले असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को पंजीकरण कराने के लिए सहायता प्रदान करे। उच्च आय वर्ग के लोगों के इस कार्य से गरीबों को बहुत लाभ मिलेगा। श्रमिकों को सम्मान देने से राष्ट्र आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रारम्भ की गई विभिन्न योजनाएं असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को ध्यान में रखकर तैयार की गई हैं। जैसे- आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, पीएम आवास योजना, उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना, और स्वच्छ भारत मिशन आदि। उन्होंने देश में महिलाओं और बालिकाओं के सशक्तीकरण के लिए सरकार द्वारा की गई पहलों के बारे में भी बताया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को वृद्धा अवस्था के दौरान सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए कई योजनाएं लागू कि गई है जैसे- स्वास्थ्य कवरेज के लिए आयुष्मान भारत, जीवन बीमा के लिए प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और शारीरिक अक्षमता के लिए प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार बिचौलियों और भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री हमेशा सतर्क रहते हैं।