• 6/17/2019

मुख्य खबर

Share this news on

उद्योगों को पंजाब सरकार ने जी.एस.टी. या एस.जी.एस.टी. लाभों में से एक का चयन करने की दी मंजूरी

Varsha

/

3/6/2019 7:49:11 PM

चंडीगढ़, 6 मार्च। राज्य में औद्योगिक विकास के लिए एक और अहम कदम उठाते हुए मंत्रीमंडल ने बुधवार को उद्योग और व्यापार विकास नीति-2017 अधीन अधिसूचित किये जी.एस.टी. लाभों में संशोधन करने को मंजूरी दे दी है जिससे औद्योगिक यूनिट जी.एस.टी. लाभ या राज्य के अंदर बिक्री पर एस.जी.एस.टी. लाभ का चयन कर सकते हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में मंत्रीमंडल ने फ़ैसला किया है कि यह संशोधन 17 अक्तूबर, 2017 से 17 अक्तूबर, 2018 के दरमियान इनवैस्ट पंजाब बिजऩस फस्र्ट पोर्टल पर कॉमन एप्लीकेशन फार्म (सी.ए.एफ.) भरने वाले औद्योगिक ईकाइयों को 17 अक्तूबर, 2018 को जारी विभागीय नोटिफिकेशन के अंतर्गत कुल जी.एस.टी. लाभ या राज्य के अंदर बिक्री पर प्रोत्साहन एस.जी.एस.टी. लाभ को अपनी इच्छा के मुताबिक चुनने की एक बार की छूट होगी। ऐसे यूनिट नोटिफिकेशन की तारीख़ से 90 दिनों के अंदर-अंदर अपनी आप्शन दे सकेंगे। एस.जी.एस.टी. की अदायगी का लाभ देने से भाव है कि वह यूनिट जो योग्य वस्तुओं की बिक्री करने पर उनकी तरफ से एस.जी.एस.टी. की अदायगी नगद खाते के द्वारा की जाती है, वह यह लाभ लेने के हकदार होंगे। योग्य यूनिट नगद खाते के द्वारा एस.जी.एस.टी. एडजस्ट करने से पहले पंजाब गुड्डज़ एंड सर्विसिज़ टैक्स एक्ट-2017 के सैक्शन-49 के अंतर्गत समय-समय पर जारी किए संशोधनों के अनुसार समेत आई.जी.एस.टी. की आई.टी.सी. और इस सबसे पहले मिलने वाले सभी आई.टी.सी. लेकर कॉमन पोर्टल पर बही खाता कायम रखेंगे। गौरतलब है कि रियायतों संबंधी एस.जी.एस.टी. के फार्मूले को औद्योगिक नीति-2017 में घोषित किया गया था जिसको 17 अक्तूबर, 2018 को मंत्रीमंडल ने अपनी मंजूरी दी थी। इस संबंधी फीडबैक और सुझाव उद्योग द्वारा प्राप्त हुए थे कि 17 अक्तूबर, 2017 को जारी हुए प्राप्त नोटिफिकेशन की तजऱ् पर कुल एस.जी.एस.टी. लाभों में तबदील किये गए।