• 3/27/2019

मुख्य खबर

Share this news on

कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने स्वच्छ सर्वेक्षण -2019 में पंजाब के नंबर में सुधार आने के लिए सेनिटेशन विभाग व लोगों को दी बधाई

Image

Varsha

/

3/6/2019 8:00:00 PM

चंडीगढ़, 6 मार्च । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने देशभर में साफ़ सफ़ाई के सम्बन्ध में पंजाब के प्रदर्शन में सुधार होने के लिए जल सप्लाई और सेनिटेशन विभाग को बधाई दी है। यह खुलासा स्वच्छ सर्वेक्षण -2019 में हुआ है। इस श्रेणी में राज्य पिछले साल के 9वें स्थान से 7वें स्थान पर आ गया है और सर्वे के अनुसार इसने उत्तर भारत में पहला स्थान प्राप्त किया है। इसका खुलासा करते हुए आज यहाँ मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि नई दिल्ली के विज्ञान भवन में भारत के राष्ट्रपति द्वारा सर्वेक्षण के घोषित किए गए नतीजे के अनुसार 1 लाख से अधिक जनसंख्या वाले शहरों में से नवां शहर उत्तरी ज़ोन का सबसे साफ़ सुथरा शहर घोषित किया गया है। इसके साथ ही इसने कूड़ा-कर्कट मुक्त शहर के लिए प्रशंसा पत्र प्राप्त किया है। इसके अलावा दो शहरी स्थानीय संस्थाओं -दिड़बा और अमृतसर कैंट - ने सेनिटेशन में तेज़ी से आगे बढ़ रहे शहरों का अवार्ड प्राप्त किया है। 6 अन्य शहरों ज़ीरा, खरड़, भोगपुर, जालंधर कैंट, भाई रुपा और रूपनगर को सेनिटेशन में प्रशंसा पत्र /मोमैंटो प्राप्त हुए हैं। मुख्यमंत्री ने बठिंडा और पटियाला को देश के 100 शहरों में से साफ़ सुथरे शहरों में लाने के लिए विभाग को बधाई दी है। इनका क्रमवार 31वां और 71वां स्थान आया है। गौरतलब है कि स्वच्छ सर्वेक्षण -2019 के अधीन कुल 4231 शाहरी स्थानीय संस्थाओं का सर्वेक्षण किया गया है जिनमें से 1020 उत्तरी ज़ोन में हैं। इनमें से पंजाब की 32 शहरी स्थानीय संस्थाएं शीर्ष 100 स्थानों में आईं हैं। इस सम्बन्ध में लोगों को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने भरोसा प्रकट किया कि साफ़ सफ़ाई और समूचे स्वास्थ्य मापदण्डों को भविष्य में और ऊंचा उठाने के लिए लोग लगातार सक्रिय रहेंगे। उन्होंने कहा कि इस रैंकिंग से राज्य सरकार द्वारा पंजाब को साफ़-सुथरा, हरा-भरा और प्रदूषण मुक्त बनाने के मिशन में लोगों के पूरे सहयोग और समर्थन को पहचान मिली है।