• 7/24/2019

मुख्य खबर

Share this news on

मुख्य चुनाव अधिकारी ने बैंकों में कार्यरत अधिकारीयों के साथ करी मीटिंग

Image

Dr.Kumar

/

3/23/2019 8:33:18 PM

चण्डीगढ़, 23 मार्च । लोकसभा चुनाव के मद्देनजऱ मुख्य चुनाव अधिकारी पंजाब डॉ. एस करुणा राजू द्वारा अपने कार्यालय में पंजाब राज्य में काम कर रहे विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधिों के साथ मीटिंग की गई। मीटिंग को संबोधन करते हुए मुख्य चुनाव अधिकारी, पंजाब डॉ. एस करुणा राजू ने कहा कि चुनाव अयोग द्वारा पारदर्शी, भयमुक्त और सभी राजनैतिक पार्टियाँ को चुनाव लडऩे के लिए समान माहौल मुहैया करवाने के लिए नियम तय किये गए हैं। इन नियमों को सही तरह लागू करने के लिए अयोग की हिदायतों के अनुसार कई टीमें भी स्थापित की गई हैं जोकि लगातार विभिन्न कार्यों का मुल्यांकन कर रही हैं। डॉ. राजू ने बताया कि पंजाब राज्य में चुनाव लडऩे के इच्छुक व्यक्तियों के लिए चुनावी ख़र्च की सीमा भारतीय चुनाव आयोग द्वारा 70 लाख रुपए मानी गई है और यह सारा ख़र्च उम्मीदवार द्वारा चुनावी ख़र्च के लिए भारतीय चुनाव आयोग की हिदायतों के अनुसार खुलवाए गए खातों के माध्यम से ही करना होता है। डॉ. राजू ने कहा कि बैंक इस बात को यकीनी बनाएं कि चुनावी ख़र्च के लिए भारतीय चुनाव आयोग की हिदायतों के अनुसार खुलवाए जाने वाला खाता खुलवाने में किसी को कोई दिक्कत न आए और साथ ही उम्मीदवार और उसके पारिवारिक सदस्यों के पहले से चल रहे बैंक खातों की गतिविधियों की अच्छी तरह निगरानी की जाये। उन्होंने यह भी कहा कि आजकल ई-कॉमर्स कंपनियों के द्वारा भी बड़े स्तर पर सामान की खरीद होती है और यदि कोई उम्मीदवार या व्यक्ति बड़े ऑर्डर के द्वारा किसी सामान की खरीद ऑनलाइन अदायगी के माध्यम से करता है तो उसकी भी निगरानी की जाये क्योंकि इस तरह से ख्ररीदे हुए सामान का इस्तेमाल वोटरों को भ्रमित करने के लिए किया जा सकता है। इस अवसर परउन्होंने आदर्श चुनाव आचार संहिता को बैंकों द्वारा सही भावना से लागू किये जाने वाले कार्यों की निगरानी करने के लिए और सभी बैंकों के साथ तालमेल करने के लिए स्टेट लेवल बैंकर कमेटी (एस.एल.बी.सी.) के पंजाब राज्य के कॉर्डीटर को चुनावी मामलों के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया और हर हफ्ते बैंकों द्वारा की जाने वाली निगरानी का मुल्यांकन करने के लिए मीटिंग की जायेगी। डॉ. राजू ने सभी बैंकों को आचार संहिता के दौरान नगदी ले जाने सम्बन्धी और उम्मीदवार द्वारा ख़र्च करने की सीमा संबंधी चुनाव आयोग की हिदायतों के अनुसार प्रत्येक बैंक में पोस्टर लगाने के भी हुक्म दिए।