• 4/23/2019

मुख्य खबर

Share this news on

मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान चण्डीगढ़ शहर में विकास के कार्यों में तेजी आई: टंडन

Image

Varsha

/

3/26/2019 9:32:43 PM

चण्डीगढ़ 26 मार्च । शहर की जनता को मोदी सरकार की उपलब्धियों व योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देते हेतु शहर में भारतीय जनता पार्टी चण्डीगढ़ द्वारा चाय पे चर्चा का कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए मंडल नं. 19 की टिम्बर मार्केट सैक्टर 26 में चाय पे चर्चा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन विशेष रूप से उपस्थित हुए। उनके साथ मार्केट के सैंकड़ों व्यापारियों व अन्य बुद्धिजीवि लोगों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान चण्डीगढ़ शहर में विकास के कार्य में तेजी आई और यह बात केवल कहने की नहीं बल्कि शहरवासियों को भी देखने को मिल रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार ने अपने 5 वर्षों में देशभर में विकास के कार्यों को गति प्रदान की। गरीबों व अन्य वर्ग के लोगों के लिए नई-नई योजनायें शुरू की जिससे देश की जनता को भरपूर फायदा मिल रहा है। भारतीय जनता पार्टी सबका साथ सबका विकास को लेकर आगे बढ़ रही है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के नेताओं की चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा की जाने वाली जुंगलेबाजी और बेतुकी बयानबाजी जगजाहिर है बीते कल उन्होंने देश की गरीब जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करते हुए बिना रोड़मेप के गरीबों को 6000 रूपये देने की घोषणा भी कर दी। अब ये पैसा कैसे देंगे और कहाँ से आयेगा इसकी भी जानकारी उनको नहीं है। ऐसे झूठे वायदे करके देश की जनता को ठग नहीं सकते, क्योंकि देश के चौंकीदार की नजर उन सब पर है। जनता भी जानती है कि जिस प्रकार से उन्होंने हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में जो किसानों के कर्जा माफ करने के वायदे किये थे वो भी खोखले साबित हुए। कांग्रेस पार्टी ने न कभी गरीबों के हितों की बात की और अगर की भी तो केवल कागजों पर, ऐसा करके उन्होंने गरीब को ओर गरीब बना दिया। यदि कांग्रेस पार्टी और उनके नेताओं को गरीबों की इतनी ही चिंता होती तो कांग्रेस पार्टी के कार्यकाल में गरीब रेखा के नीचे जीवन व्यतित करने वाले लोग अपने भीतर परिवर्तन पाते। लेकिन कांग्रेस पार्टी ने तो गरीबों के नाम पर वोट बैंक की राजनीति की है जिसको जनता अब समझ चूकी है और अब वह राहुल गांधी के झूठे, लुभावने वायदों में फंसने नहीं वाली।