• 4/23/2019

मुख्य खबर

Share this news on

जन्म दिवस पर एक पौधा व पक्षियों के लिए जल कटोरा गिफ्ट के रूप में दिए जाते हैं : प्रदीप त्रिवेणी

Image

Varsha

/

4/15/2019 8:39:51 PM

चण्डीगढ़, 15 अप्रैल। छ: वर्षीय मास्टर विवेक कुलड़िया ने शताक्षि मेहता को जन्म दिवस पर आंवले का पौधा व पक्षियों के लिए जल कटोरा भैट कर जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनाएं दी। शताक्षि ने विवेक के साथ वेरका सोसाईटी सैक्टर 49 चंडीगढ़ में अपना छठा जन्मदिवस आंवले का पौधा लगाकर व पक्षियों के लिए जल कटोरा रख कर मनाया। प्रदीप त्रिवेणी ने बताया कि त्रिवेणी फाउंडेशन ने मुहिम चला रखी है कि जन्मदिन के अवसर पर एक पेड़ और पक्षियों के लिए जल कटोरा उपहार में दिए जाते हैं। प्रदीप ने बताया कि निरंतर पक्षियों की संख्या कम होती जा रही है। दिन प्रतिदिन पंछी लुप्त होते जा रहे हैं पेड़ों का पक्षियों का मनुष्य का आपस में बहुत गहरा संबंध है पक्षियों का आशियाना है पेड़ पौधे, वृक्ष जिसकी वजह से आज तक प्रकृति का संतुलन बनाए रखे है। आज समाज सिर्फ भविष्य की ओर देख रहा है परंतु यह भूल गया है कि अगर वह प्रकृति ही है जो उसे जिंदा रखेगी। मानव जीवन के तीन बुनियाद आधार शुद्ध हवा, ताजा पानी और उपजाऊ मिट्टी मुख्य रूप से वनों पर ही आधारित हैं इसके साथ ही वनों से कई अप्रत्यक्ष लाभ भी हैं जिनमें खाद्य पदार्थ को सत्य फल फूल इंधन पशु और इमारती लकड़ी वर्षा संतुलन भू जल संरक्षण और मिट्टी की उर्वरता आदि प्रमुख है जिस पर्यावरण चेतना की बात विकसित देश अब कर रहे हैं वह आदिकाल से भारतीय मनीषा का मूल आधार रही है। इस अवसर पर शताक्षी के माता-पिता मिनाक्षी, अभिषेक दादा-दादी अशोक मेहता, सुदर्शना मासी सरिता, अंजली दीदी ऐनी उपस्थित रहे ।