• 11/14/2019
Latest News

मुख्य खबर

Share this news on

केंद्र सरकार राज्य के एस.सी. विद्यार्थियों के भविष्य के साथ न खेले: साधु सिंह धर्मसोत

Image

Rohit Aswal

/

7/21/2019 12:40:47 AM

चंडीगढ़ 20 जुलाई । पंजाब के सामाजिक न्याय, अधिकारिता एवं अल्पसंख्यक मंत्री स. साधु सिंह धर्मसोत ने कहा है कि केंद्र सरकार राज्य के अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के बेहतर भविष्य के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप अनुपात (60:40) का नया प्रस्ताव तुरंत वापस ले। उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि स्कॉलरशिप अनुपात का पुराना फ़ार्मूला (90:10) लागू करके ही राज्य के एस.सी. विद्यार्थियों का भविष्य बर्बाद होने से बचाया जा सकता है। उन्होंने केंद्र और राज्य के हिस्से में बिना कोई बदलाव किये पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप जारी रखने पर ज़ोर देते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार राज्य के एस.सी. विद्यार्थियों के भविष्य के साथ न खेले। आज यहाँ आर्यन्ज़ ग्रुप ऑफ कॉलेजिज़ द्वारा करवाए गए आर्यन्ज़ स्कॉलरशिप मेले में शिरकत करते हुए उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा स्कॉलरशिप के नये प्रस्ताव की आलोचना करते हुए कहा कि इससे केंद्र सरकार अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को मुख्य धारा में लाने की अपनी जि़म्मेदारी से भाग रही है। उन्होंने कहा कि राज्य के अनुसूचित जातियों के साथ सम्बन्धित विद्यार्थियों को किसी भी कॉलेज में दाखि़ला लेने में कोई भी समस्या नहीं आने दी जायेगी। आर्यन्ज़ ग्रुप ऑफ कॉलेजिज़ द्वारा करवाए गए इस स्कॉलरशिप मेले में पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटियाला के उप कुलपति डा. बी. एस. घुम्मन ने गेस्ट ऑफ ऑनर के तौर पर शिरकत की जबकि इस समारोह की अध्यक्षता आर्यन्ज़ के चेयरमैन डा. अंशु कटारिया ने की। डा. बी. एस. घुम्मन ने आर्यन्ज़ की इस पहलकदमी की प्रशंसा करते हुए कहा कि आर्यन्ज़ संस्था, पंजाबी यूनिवर्सिटी के अधिकार क्षेत्र के अधीन 265 संस्थाओं में से एक है। इस अवसर पर एस.सी /एस.टी. विद्यार्थियों के लिए एक विशेष स्कॉलरशिप हेल्पलाइन नंबर भी शुरू किया गया। इस मेले में 100 होनहार और योग्य विद्यार्थियों को मेरिट कम मीन्स के आधार पर स्कॉलरशिप देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर डॉ. प्रवीण कटारिया डायरैक्टर जनरल, प्रोफ़ैसर बी. एस. सिद्धू डायरैक्टर, आर्यन्ज़ ग्रुप, रमन रानी गुप्ता प्रिंसिपल आर्यन्ज़ ग्रुप, स्टीवन जवन्दा, रजिस्ट्रार आर्यन्ज़ ग्रुप आदि भी मौजूद थे।