• 11/14/2019
Latest News

मुख्य खबर

Share this news on

जापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप ने कैप्टन के साथ रियल एस्टेट सैक्टर में निवेश योजना करी सांझी

Image

Apurv

/

8/13/2019 10:20:23 PM

चंडीगढ़, 13 अगस्त । जापान की अग्रणी सॉफ्टबैंक ग्रुप ने मंगलवार को यहाँ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के साथ रियल एस्टेट सैक्टर में निवेश करने की योजना सांझी की जो उनके प्रमुख ओयो स्टार्ट-अप के द्वारा विद्यार्थियों की रिहायश पर केंद्रित है। इस ग्रुप के एम.डी. हिरोकी किमोटो के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के साथ यहाँ उनकी रिहायश पर मुलाकात की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सॉफ्टबैंक ग्रुप की निवेश योजना को अमली रूप देने के लिए उनकी सरकार की तरफ से पूर्ण सहयोग देने का भरोसा दिया। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने प्रतिनिधिमंडल को निवेश पंजाब के सिंगल विंडो क्लीयरेंस प्लेटफॉर्म के द्वारा तेज़ी से निवेश को यकीनी बनाने का विश्वास दिलाया। उन्होंने कहा कि नई औद्योगिक नीति रियायतों और सुविधाओं पर केंद्रित है जिस कारण पिछले दो सालों में ज़मीनी स्तर पर 50,000 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। इससे पहले विभिन्न निवेश प्रौजेक्टों संबंधी प्रतिनिधिमंडल को जानकारी देते हुए निवेश प्रोत्साहन और औद्योगिक एवं व्यापार के अतिरिक्त प्रमुख सचिव विन्नी महाजन ने बताया कि पंजाब में रियल एस्टेट प्रमुख सैक्टर है और चंडीगढ़ के पास के इलाकों में बहुत तरक्की हुई है। उन्होंने कहा कि पिछले दो सालों में पंजाब में 2000 करोड़ रुपए की ई-नीलामी हुई है। उन्होंने बताया कि प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय ग्रुप मकान, विद्यार्थियों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए रिहायशी सुविधा के तौर पर इसको संभावी निवेश सैक्टर के तौर पर देख रहे हैं। विचार-विमर्श में हिस्सा लेते हुए लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी के उप-कुलपति अशोक मित्तल ने यह बताया कि विद्यार्थियों के लिए होस्टलों का निर्माण करने के लिए संभावी हिस्सेदारी के तौर पर सॉफ्टबैंक के साथ उनकी बातचीत चल रही है क्योंकि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय विद्यार्थियों के लिए होस्टल की सुविधा की बड़ी माँग है। यह जि़क्रयोग्य है कि सॉफ्टबैंक भारतीय स्टार्ट-अप में बड़े निवेशकों में से एक है और उनके निवेश का लगभग 20 प्रतिशत हिस्सा भारत पर आधारित कारोबार में है। यह कंपनी बड़े घरेलू ग्रुपों के साथ जुड़ा हुआ है जिनमें यातायात की सुविधा प्रदान करने वाला ओला ग्रुप, जल्दी से होटल बुक करने का प्लेटफॉर्म मुहैया कराने वाला ओयो और इलैक्ट्रॉनिक्स पेमैंट करने का अग्रणी माना जाने वाला पेटीएम शामिल हैं। इस समय पर यह ग्रुप प्रौद्यौगिकी पर आधारित 100 बिलियन के विजऩ फंड से निवेश कर रहा है और फिनटैक्क स्टार्ट-अप इसका प्रमुख क्षेत्र है। पिछले महीने ग्रुप ने अपने प्रौद्यौगिकी आधारित विजऩ फंड-2 का भी ऐलान किया है जिसमें 108 बिलियन की पूँजी की वचनबद्धता अभिव्यक्त की है जो मुख्य तौर पर ए.आई. आधारित प्रौद्यौगिकी और रियल एस्टेट पर केंद्रित होगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव तेजवीर सिंह और निवेश पंजाब के सी.ई.ओ. रजत अग्रवाल भी मीटिंग में उपस्थित थे। इनके अलावा प्रतिनिधिमंडल में ग्रुप की सीनियर मैनेजर निशाद कोकटे और सॉफ्टबैंक के अधिकारी अदित्या दीक्षित भी शामिल थे।