• 10/20/2019
Latest News

मुख्य खबर

Share this news on

पवित्र बाइबिल ग्रंथ के वचनों के अपमान पर पर हो कड़ी कार्रवाई: संजीव कुमार

Image

Varsha

/

10/9/2019 10:12:02 PM

चंडीगढ़, 9 अक्टूबर। मसीह एकता संघर्ष कमेटी ने पुरजोर मांग करते हुए सिमरन भट्टी नामक महिला के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। कमेटी का कहना है कि सिमरन भट्टी ने उनके पवित्र ग्रंथ बाइबिल के पवित्र बचनों को लेकर अपशब्द इस्तेमाल किये है। चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकारवार्ता में मसीह एकता संघर्ष कमेटी के चेयरमैन संजीव कुमार, अल इंडिया क्रिस्चियन समाज मोर्चा के प्रेसिडेंट जसपाल मसीह और कांग्रेस जिला प्रधान रोशन जोसेफ ने कहा कि सिमरन भट्टी नामक महिला ने एक पास्टर के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हमारे आत्मिक शब्द का मजाक उड़ाया था। जिस कारण मसीही समाज की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है। उन्होंने कहा कि पास्टर से महिला की निजी लड़ाई हो सकती है। जिसके बीच मे धर्म को लाने का कोई औचित्य नही है। मसीही समाज चंडीगढ़ प्रशासन से पुरजोर मांग करते है कि उक्त महिला के खिलाफ धारा 295- ए के तहत मामला दर्ज करके जल्द से जल्द महिला को गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि यदि उक्त महिला के खिलाफ कोई कार्रवाई नही हुई तो मसीही समाज की भावना आहत होंगी। उन्होंने कहा कि मामला जमीन से जुड़ा है और सिमरन भट्टी की निजी महतबकांक्षा से जुड़ा है और उसे पूरा करने के लिए उक्त महिला ने 08 वर्षीय को मोहरा बनाने में कोई कसर नही छोड़ी। जिसके चलते उसने सम्मानित पास्टर को लपेटे में ले लिया और बेहद ही गंदे और शर्मनाक इल्ज़ाम पास्टर पर लगा दिए। हम इन आरोपों की पहले ही कड़ी निंदा कर चुके है और मसीही समाज की तरफ से एकता भाईचारे का संदेश देते हुए उक्त महिला के लिए सद्बुद्धि की प्रार्थना करते है। वहीं पास्टर के समर्थन में मसीही समाज के सैंकड़ों लोगों ने प्रार्थना मार्च निकाला।