• 7/4/2020

मुख्य खबर

Share this news on

पंजाब विजीलैंस ने दो तहसीलदारों के विरुद्ध रिश्वत का मामला किया दर्ज, एक गिरफ़्तार

Dr. Kumar

/

1/17/2020 10:47:52 PM

चंडीगढ़, 17 जनवरी । पंजाब विजीलैंस ब्यूरो द्वारा भ्रष्टाचार के विरुद्ध चलाई जा रही मुहिम के अंतर्गत दो नायब तहसीलदारों के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया गया है जिनमें से एक नायब तहसीलदार को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ़्तार किया है। इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि जि़ला तरन तारन के परगट सिंह की शिकायत पर राजपुरा (जि़ला पटियाला) के नायब तहसीलदार हरनेक सिंह को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू किया गया है। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता ने ब्यूरो को पहुँच करके बताया है कि उसकी अपनी ज़मीन के विभाजन सम्बन्धी पटीशन नायब तहसीलदार बनूड़ रुपिन्दर कुमार के पास विचाराधीन थी जिसने शिकायतकर्ता को नायब तहसीलदार राजपुरा के पास जाने के लिए कहा। प्रवक्ता ने आगे बताया कि नायब तहसीलदार राजपुरा ने नायब तहसीलदार बनूड़ और एसएएस नगर के अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर के पास चल रहे दो राजस्व मामलों का फ़ैसला शिकायतकर्ता के हक में करवाने के बदले दस लाख रुपए की रिश्वत की माँग की थी। उक्त जानकारी की पुष्टि करने के बाद ब्यूरो ने जाल बिछाया और दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में दो लाख रुपए नकद और 8 लाख रुपए की राशि का चैक लेते हुए दोषी नायब तहसीलदार हरनेक सिंह को रंगे हाथों काबू किया गया। इस मामले में नायब तहसीलदार बनूड़ पर भी रिश्वतख़ोरी का मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों अधिकारियों के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार रोकथाम एक्ट की धारा 7, 13 (2) के अंतर्गत विजीलैंस ब्यूरो, थाना एस.ए.एस. नगर में केस दर्ज कर लिया गया है और अगली जाँच जारी है।