• 2/28/2020

मुख्य खबर

Share this news on

कैप्टन अमरिन्दर ने एन.एच.ए.आई. के चेयरमैन के साथ की मुलाकात

Image

Varsha

/

1/20/2020 10:36:42 PM

नई दिल्ली, 20 जनवरी । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एन.एच.ए.आई.) के चेयरमैन डा. सुखबीर सिंह संधू ने प्रतिष्ठित दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रैसवे प्रोजैक्ट का काम जल्द ही शुरू करने पर सहमति जताई है। आज दोपहर बाद मुख्यमंत्री और एन.एच.ए.आई. के चेयरमैन के बीच हुई मीटिंग के बाद एक सरकारी प्रवक्ता ने खुलासा किया कि 30,000 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य जल्द ही शुरू किया जायेगा जिसमें से 10,000 करोड़ रुपए एन.एच.आई.ए. द्वारा पंजाब में 300 किलोमीटर मार्ग के लिए खर्च किए जाएंगे। एन.एच.ए.आई. के चेयरमैन ने मुख्यमंत्री को बताया कि अथॉरिटी द्वारा प्रस्तावित संक्षिप्त संरेखण को अब अंतिम रूप दिया जा चुका है, जिससे इस प्रोजैक्ट के रास्ते की सारी बाधाएं दूर हो गई हैं। मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने शंभू-जालंधर (पुराना राष्ट्रीय राजमार्ग-1), राष्ट्रीय राजमार्ग-95 का लुधियाना-तलवंडी भाई हिस्से को जल्द शुरू करने और राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर टोल टैक्स की वसूली रद्द करने की माँग की क्योंकि इस मार्ग का कार्य अभी तक मुकम्मल नहीं हुआ है। राष्ट्रीय राजमार्ग 205ए पर खरड़-बनूड़-तेपला के चार मार्गीय का जि़क्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मार्ग मई, 2017 में एन.एच.ए.आई. को सौंप देने के बावजूद अभी तक इसका चार मार्गीय करने का कार्य शुरू नहीं हुआ है। उन्होंने एन.एच.ए.आई. को बिना किसी देरी के इसका कार्य शुरू करने के लिए कहा। एन.एच.ए.आई. द्वारा गमाडा और स्थानीय नगर कौंसिल के साथ ज़ीरकपुर शहर में टोल रोड की व्यापक स्तर पर समीक्षा करने की माँग करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समय टोल रोड होने के कारण मौजूदा राष्ट्रीय राजमार्ग-22 पर ज़ीरकपुर शहर में अक्सर ट्रैफिक़ जाम लगा रहता है। सडक़ के दोनों तरफ घनी जनसंख्या /व्यापारिक गतिविधियों के कारण बहुत ज़्यादा ट्रैफिक़ जाम रहता है जिस कारण टोल व्यवस्था को फिर से जाँचने की ज़रूरत है।