• 2/28/2020

मुख्य खबर

Share this news on

संघर्ष विकास सभा ने बहलाना में माँ सरस्वती की पूजा अर्चना की

Image

Preeti

/

1/29/2020 9:57:48 PM

चंडीगढ़, 29 जनवरी । चंडीगढ़ के गांव बहलाना में संघर्ष विकास सभा द्वारा माँ सरस्वती की पूजा अर्चना की गयी । संघर्ष विकास सभा अध्यक्ष राजेश चौधरी ने बताया हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी 8 वा माँ सरस्वती पूजा का आयोजन किया गया । वही बहलाना गांव में पूर्वांचल की तादाद जयादा होने से लोगो ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया । मां सरस्वती की पूजा करने से सुख, समृद्धि और कल्याण की प्राप्ति होती है। इस दिन पीले वस्त्र धारण किए जाते है। स्कूलों व कॉलेजों में शिक्षक और छात्र मां सरस्वती की पूजा करते हैं। इस दिन सुबह स्नान कर पवित्र आचरण, वाणी के संकल्प के साथ माता सरस्वती की पूजा करें। पूजा में गंध, अक्षत (चावल) के साथ खासतौर पर सफेद और पीले फूल, सफेद चंदन तथा सफेद वस्त्र देवी सरस्वती को चढ़ाएं। प्रसाद में पीले चावल, खीर, दूध, दही, मक्खन, सफेद तिल के लड्डू, घी, नारियल, शक्कर और मौसमी फल चढ़ाएं। इसके बाद माता सरस्वती से अपने लिए और अपने बच्चों की बुद्धि और कामयाबी की कामना करें। घी के दीप जलाकर आरती करें... ऐं सरस्वत्यै नम: इस मंत्र का 108 बार पाठ करना चाहिए।