• 6/3/2020

मुख्य खबर

Share this news on

रिटायर्ड यूटी इम्प्लाइज को राहत देने पर सोसायटी ने प्रशासन एवं बीजेपी का किया धन्यवाद

Khusmeet Brar

/

5/22/2020 8:53:59 PM

चंडीगढ़, 22 मई । यूटी इम्प्लाइज हाउसिंग वेल्फेयर सोसायटी चण्डीगढ के प्रधान सरदार बलविन्दर सिंह और महासचिव डॉ धर्मेन्द्र ने प्रैस नोट जारी करते हुए चण्डीगढ प्रशासन के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी व उसके वरिष्ठ नेताओं का बिते दिन यूनियन के द्वारा रिटायर्ड यूटी इम्प्लाइज के मामले में प्रशासन से राहत दिलाने पर धन्यवाद किया है। डॉ. धर्मेन्द ने बताया कि सोसायटी ने चण्डीगढ प्रशासन को पत्र लिखकर निवेदन किया था कि रिटायर्ड यूटी इम्प्लाइज जो लाकडाउन और कर्फ्यू के कारण कहीं पर अपना रहने का ठिकाना नहीं बना पाए उनके लिए कम से कम छह महीने का टाइम दिया जाए जिसमें कर्मचारियों को वर्तमान में दिये जा रहे किराए का 100 गुणा या 200 गुणा किराया ना देना पड़े । डॉ० धर्मेन्द्र ने बताया कि यदि रिटायर हुए कर्मचारी सरकारी मकान को रिटायरमैन्ट की तारीख से चार महीने तक खाली नहीं करते तो उन्हें अगले तीन महीने तक 100 गुणा और उसके बाद 200 गुणा किराया देना पड़ता जो कि कर्मचारियों की सामर्थ्य से बाहर की बात है । 50 दिन से ज्यादा लाकडाउन लगने के कारण कर्मचारी अपना ना तो कोई मकान खरीद सके ना ही बना सके । बनाते भी कैसे एक तो लाकडाउन लगा था दूसरा कर्मचारियों को रिटायरमैन्ट के बाद मिलने वाले पैन्शनरी बैनिफिट भी उन्हें नहीं मिले । लाकडाउन के कारण अभी तक पैन्शन के केस भी तैयार नहीं हुए हैं तो फिर बिना पैसे कर्मचारी मकान कैसे बनाते या खरीदते । सोसायटी के माँगपत्र पर निर्णय लेते हुए प्रशासन ने ऐसे कर्मचारियों को जो रिटायरमैन्ट के बाद सरकारी मकानों में रह रहे थे और उन पर लगातार मकान खाली करने का भी दबाव था या फिर 100 गुणा और 200 गुणा किराया देने का दबाव था को तीन महीने की राहत देने का फैसला किया है जिसकी जानकारी प्रशासन के सलाहकार मनोज कुमार परिदा जी ने अपने ट्विटर हैण्डल से ट्वीट करके दी । यूटी इम्प्लाइज हाउसिंग वेल्फेयर सोसायटी चण्डीगढ ने चण्डीगढ प्रशासन द्वारा कर्मचारियों को दी गई तीन महीने की राहत के लिए चण्डीगढ के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर और प्रशासक के सलाहकार मनोज कुमार परिदा का हृदय से आभार व्यक्त किया । डॉ धर्मेन्द्र ने चण्डीगढ प्रशासन के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी व उसके वरिष्ठ नेताओं का भी इस मामले में प्रशासन से बात करके मामले में राहत दिलाने के लिए धन्यवाद किया । यूटी इम्प्लाइज हाउसिंग वेल्फेयर सोसायटी चण्डीगढ के महासचिव डॉ० धर्मेन्द्र ने चण्डीगढ प्रशासन का धन्यवाद करने के साथ-साथ प्रशासन से माँग की है कि रिटायर्ड इम्प्लाइज के पैन्शनरी बैनिफिट जल्द से जल्द जारी किए जाएं ताकि कर्मचारी अपना मकान बना सकें ।