• 5/25/2018

मुख्य खबर

Share this news on

वार्षिक आईटी फिएस्टा में टैक्नोलॉजी व मस्ती का रहा माहौल

Image

Poonam pohal

/

2/21/2018 10:52:31 AM

चंडीगढ़, 20 फरवरी। गुरु गोबिंद सिंह कॉलेज फॉर वीमेन (जीजी एस सी डब्ल्यू), सेक्टर-26, चंडीगढ़ के पोस्ट ग्रेजुएट डिपार्टमेंट ऑफ कंप्यूटर साइंस एंड एप्लीकेशंस ने, युवाओं में विज्ञान व प्रौद्योगिकी के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के लिए, चंडीगढ़ प्रशासन के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के सहयोग से एक आईटी फिएस्टा का आयोजन किया, जो कॉलेज के वार्षिक उत्सव का भी प्रतिनिधित्व करता है।  मुख्य अतिथि, डीएसटी के प्रोजेक्ट डायरेक्टर, रविंदर सिंह ने कहा कि प्रौद्योगिकी तेजी से आगे बढ़ रही है और युवाओं को इसके साथ तालमेल बनाए रखने की आवश्यकता है। उन्होंने लड़कियों को जीवन के सभी क्षेत्रों में श्रेष्ठ बने रहने के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम के विशेष अतिथि थे- एस गुरुदेव सिंह, प्रेसीडेंट, सिख एजूकेशनल सोसाइटी और कर्नल (सेवानिवृत्त) एस जसमेर सिंह बाला, सचिव, सिख एजूकेशनल सोसाइटी। कॉलेज की प्रिंसीपल, डॉ. चरनजीत कौर सोही ने कम्प्यूटर साइंस विभाग के प्रयासों की सराहना की और छात्रों को जीवन के सभी क्षेत्रों में सक्रिय रहने के लिए स्वस्थ प्रतिस्पर्धा करने हुेत प्रोत्साहित किया। डॉ. रोहिणी अरोड़ा, एचओडी, पीजी डिपार्टमेंट ऑफ कम्प्यूटर साइंस और एप्लीकेशंस ने कहा, 'हमारा विभाग छात्रों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए निरंतर प्रयास कर रहा है। हमारी कोशिश है कि छात्र जिस भी प्रतियोगिता में भाग लें, उसमें तकनीकी और व्यक्तिगत कौशल के बलबूते सफल रहें। ऐसे आयोजनों से प्रतियोगिता की भावना सुनिश्चित होती है और छात्र टीम के रूप में काम करना सीखते हैं। शहर व आसपास के 20 कॉलेजों के छात्रों ने ऑनलाइन पंजीकरण कराके इस समारोह में भाग लिया। आईटी से संबंधित अनेक प्रतियोगिताएं आयोजित की गयीं, जैसे कि वेबसाइट डिजाइनिंग,सॉफ्टवेयर विकास, पोस्टर प्रस्तुति, कार्टूनिंग, ई-वेस्ट मॉडलिंग, फेस पेंटिंग, कोलाज मेकिंग, सॉफ़्टवेयर डिबगिंग और फोटोग्राफी आदि। एक मॉडलिंग प्रतियोगिता भी हुई। इसके आधार पर, पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज, सेक्टर 11 के धीरज को मिस्टर आईटी फिएस्टा चुना गया,जबकि उसी कॉलेज की हिमांशी को मिस आईटी फिएस्टा का खिताब मिला। ट्रॉफी पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज, सेक्टर 46 ने जीती। कई सारे नुक्कड़ नाटक खेले गये। टीमों ने डिजिटल इंडिया थीम पर टैक रंगोली प्रतियोगिता में भाग लिया। छात्रों ने टैक्नोलॉजी आधारित कई सुंदर रंगोली तैयार कीं, जिन्हें बहुत पसंद किया गया। टैक्नोलॉजी और मनोरंजन का मेल दिखाते अनेक नृत्य प्रस्तुत किये गये। ई-वेस्ट मॉडलिंग प्रतियोगिता के जरिये बेकार चीजों का कुशलता से इस्तेमाल करना दिखाया गया। टूटी हुई सीडी, बिजली के तारों और बेकार पड़े इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बड़े रचनात्मक ढंग से इस्तेमाल करते हुए पेन स्टैंड, मोबाइल फोन, हवाई जहाज आदि के मॉडल तैयार किये गये।   दूसरी ओर, फेस पेंटिंग और समूह नृत्यों ने प्रतिभागियों का उत्साह बनाये रखा। कार्टूनिंग प्रतियोगिता में छात्रों की कल्पना को अच्छी तरह से प्रस्तुत किया गया था, जिसमें दिखाया गया कि कार्टून के क्षेत्र में प्रौद्योगिकी का उपयोग कैसे किया जा सकता है। इस प्रतिष्ठित संस्थान के पूर्व छात्रों को सम्मानित करने के लिए, विभाग की ओर से 15 पूर्व छात्रों को विभिन्न प्रतियोगिताओं के निर्णायक मंडल में शामिल किया गया।  कॉलेज के उत्सव का आनंद दोगुना करने के लिए एक सेल्फी कॉर्नर तैयार किया गया था, जहां खास तौर पर लड़कियों ने विभिन्न प्रॉप्स का प्रयोग करते हुए खूब सैल्फी खींची। एक प्रदर्शनी के अलावा फेस्ट में अनेक अन्य स्टाल भी मौजूद थे।