• 10/19/2018

मुख्य खबर

Share this news on

ज्ञान ज्योति में सरबत के भले के लिए कीर्तन दरबार अयोजित

Image

Varsha

/

2/24/2018 10:31:44 PM

मोहाली, 24 फरवरी। ज्ञान ज्योति ग्रुप आफ इंस्टीट्यूटस व ज्ञान ज्योति ग्लोबल स्कूल द्वारा संयुक्त रूप से फेस 2 मोहाली में कीर्तन दरबार का आयोजन किया गया। यह कीर्तन दरबार विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की अरदास करने के लिए किया गया था। यह कीर्तन दरबार परमपिता की वंदना के साथ साथ विद्यार्थियों को गुरु शब्द के साथ जोडऩे का एक अहम प्रयास बना। इस दौरान न सिर्फ समूह विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों ने गुरु की बानी का स्मरण किया बल्कि क्षेत्र की भारी संगत ने भी इस समारोह में गुरु की बानी का आनंद उठाया। इस रसमय कीर्तन दरबार की शुरुआत ज्ञान ज्योति पब्लिक स्कूल व ज्ञान ज्योति इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट एंड टैक्नोलाजी के विद्यार्थियों द्वारा शब्द गायन से हुई। इसके बाद पंथ जगत के प्रसिद्ध रागी जत्थों ने आई संगत को गुरु ग्रंथ साहिब की अनमोल विरासत से जोड़ते हुए संगत को कीर्तन से निहाल किया, जिन्में भाई  लखविंदर सिंह जी अमृतसर वाले, भाई हरिंदरपाल सिंह फतेहगढ़ साहिब वाले , भाई सतीदर पाल सिंह लुधियाना वाले , भाई हरनाम सिंह हजीरी रागी श्री दरबार साहिब अमृतसर, भाई ओकर सिंह जी ऊना वाले प्रमुख थे। इस दौरान मैनेजमेंट की तरफ से सभी रागी सहबानें को सरोपोएउ भेंट किये गए।  इस अवसर पर जहां माहौल पूरी तरह गुरुबानी का रंगा गया वहीं समूह संगत ने पंडाल में शब्द गायन का भरपूर लुत्फ उठाया। ज्ञान ज्योति गु्रप के चेयरमैन जेएस बेदी ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज की युवा पीढ़ी धर्म व गुरुओं की शिक्षाओं से दूर होती जा रही है, जिसके नतीजे भी उन्हें साथ की साथ भुगतने पड़ रहे हैं। उन्होंने समूह विद्यार्थियों को गुरु साहिबों के दर्शाए रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित किया और पढ़ाई के साथ साथ गुरबाणी से जुडऩे के लिए कहा। उन्होंन कहा कि धर्म सदैव इंसान को मेहनत करने के लिए इंसानियत की सेवा करने का संदेश देता है। इस अवसर पर चाय व गुरु का लंगर अटूट चला, जिसमें समूह स्टाफ व विद्यार्थियों ने संगत की सेवा करते हुए गुरुबानी सुनी।