• 5/25/2018

मुख्य खबर

Share this news on

प्राचीन भारतीय विरासत की शोधकर्ता फैशन डिजाइनर ने तैयार की हैं लुभावनी पीरियड डिजाइंस

Image

Poonam pohal

/

3/22/2018 10:44:35 PM

चंडीगढ़, 22 मार्च। फैशन डिजाइनिंग में किसी तरह के औपचारिक प्रशिक्षण के बिना, शहर की एक अभिनव फैशन डिजाइनर, निमरत कहलों ने साल भर पहले शुरू किया था अपना अनूठा फैशन स्टार्ट अप- 'धागे क्रिएशंस' । उन्होंने ऐतिहासिक पोशाकों को समकालीन तरीके से विकसित करने को ही अपने वेंचर का यूएसपी बनाया है। बॉलीवुड और क्षेत्रीय सिनेमा दोनों में ही पीरियड फिल्मों की लोकप्रियता के साथ, निमरत के तैयार वस्त्रों की मांग बढ़ रही है। निमरत ने सेक्टर 38 स्थित अपने स्टूडियो में एक ईवेंट के दौरान अपने काम का प्रदर्शन किया और मीडिया के लिए एक वीडियो प्रीव्यू आयोजित किया, जिसमें उनके पीरियड फैशन डिजाइनों को खूबसूरती से दर्शाया गया था। निमरत ने अपने ज्ञान और इस विषय के गहन अध्ययन के चलते उच्च वर्ग के फैशन में अपनी एक खास पहचान बनायी है। वे पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ से भारतीय कला इतिहास में पोस्ट ग्रेजुएट हैं और 'व्यक्तिगत सजावटों में भारतीय मूर्तिशिल्प कला का प्रतिनिधित्व' जैसे एक बहुत ही दिलचस्प विषय में पीएचडी कर चुकी हैं। इसी कारण से वे 'पीरियड फ़ैशन' से संबंधित कुछ लुभावनी डिजाइन तैयार करने में सक्षम हैं। उनकी विशेषज्ञता फैशन के पुराने रूपों को पहचानने में निहित है, जिसमें भारतीय अतीत की महान विरासत छिपी है। निमरत ने बताया, 'सभ्यता की शुरुआत से ही भारत में बहुत ही सौंदर्यपूर्ण और सही कपड़े पहने जाते थे। पहले पुरुषों और महिलाओं दोनों के  ही समान तरह के वस्त्र हुआ करते थे। दोनों के लिए अलग कपड़ों का उपयोग बहुत बाद में शुरू हुआ, जिसके तहत धोती ने पुरुषों में पतलून और महिलाओं में सलवार का रूप ले लिया। आज हम जो पहनते हैं, वह निश्चित रूप से अतीत से लिया हुआ पहनावा है। उन्होंने विभिन्न कांसेप्ट पर काम किया है, जैसे कि पीरियड फैशन के माध्यम से अविभाजित पंजाब की असली विरासत को पेश करना। इन संग्रहों में से कुछ का एक वीडियो पूर्वावलोकन भी आयोजित किया गया। निमरत कहती हैं, 'मैंने मुगल फैशन के कुछ खो गए स्वरूपों को वापस लाने की कोशिश की है। मेरे कलेक्शन में भारतीय नवाबों के शाही कपड़े और असली मारवाड़ी परिधानों की परंपरा शामिल है। उन्होंने भारतीय प्रांतों की कशीदाकारी की समृद्ध संस्कृति और पुरानी तकनीक को फिर से शुरू करने का प्रयास किया है। माउंट आबू के प्रसिद्ध दिलवाड़ा मंदिरों की खूबसूरत नक्काशी ने उन्हें एक छोटा अनारकली लुक देने के लिए प्रेरित किया। निमरत के परिधान भारतीय परंपराओं की गहरी समझ को दर्शाते हैं। उनका फोकस भारतीय संस्कृति की खोई महिमा और उसके पहनावे की आदतों को वापस लाने पर है। उनके डिजायनों में सुरुचिपूर्ण पार्टी सूट, लहंगा और अनारकली से लेकर शाही अंगरखा, अचकन और पश्तून तक नज़र आता है। निमरत जल्द ही दुल्हनों के लिए कुछ भव्य डिजाइन शुरू करने की योजना पर काम कर रही हैं । वे पुरुषों के पहनावे पर भी काम करना चाहती हैं, जिसमें शेरवानी और अचकन शामिल रहेंगी। उनकी उपस्थिति पंजाबी फिल्म उद्योग में भी देखी जा सकती है, जिसमें अभिनेत्री सोनिया मान तो उनके लेबल की ब्रांड एंबेसडर ही हैं और अभिनेत्री हिमांशी खुराना भी परदे पर अपनी पहचान को मजबूत करने के लिए निमरत के डिजायनों का उपयोग कर रही हैं।  निमरत ने पेशेवर मॉडलों की जगह अलग-अलग क्षेत्रों में अपनी पहचान बना रही महिलाओं को अपने डिजाइनों की मॉडलिंग के लिए चुना है। उनके साथ जुड़ी नामी युवतियों में प्रमुख हैं-  नेशनल शूटर अवनीत कौर सिद्धू, डीजे वर्णिका कुंडू, सामाजिक कार्यकर्ता तेजिंदर कौर सोनिया, नवजोत कौर लाम्बी तथा फिटनेस विशेषज्ञ गगन सिद्धू आदि।