• 8/22/2018

मुख्य खबर

Share this news on

कांग्रेस नवाज़ शरीफ जैसी दुर्गति की राह पर : प्रो चौहान 

Image

Rohit Aswal

/

5/14/2018 10:56:10 PM

शाहबाद मारकंडा, 14 मई। रोजाना कालेधन पर सवाल खड़ा करने वाली कांग्रेस के मुखिया राहुल गांधी देश के पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठतम नेताओं में से एक पी चिदंबरम के काले धन पर मौन क्यों हैं? भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रकाशन प्रमुख वीरेंद्र सिंह चौहान ने यहां पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में यह सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि स्वयं नेशनल हेराल्ड मामले में जमानत पर चल रहे राहुल गांधी से इस मामले में जवाब की उम्मीद तो नहीं है मगर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता और नेता गांव की गलियों से लेकर संसद के गलियारों तक कांग्रेस पार्टी के इस दोहरे चरित्र को बेनकाब करेंगे। प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि काला धन चाहे देश में हो अथवा विदेश में, उसके मालिकों को उन की करतूतों की सजा दिलवाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्र सरकार ने विधिवत कानून बनाया है। उस कानून में अघोषित संपत्तियों को सार्वजनिक करने का अवसर पी चिदंबरम और  उनके कांग्रेसी कुनबे के सब लोगों को देश के अन्य नागरिकों की तरह दिया गया था। मगर आयकर विभाग के हाथ आए दस्तावेज इस बात की गवाही दे रहे हैं कि भारत में भ्रष्टाचार की शिरोमणि बनी कांग्रेस पार्टी के कर्ताधर्ता अब भी अपने काले कारनामों को छुपाने में जुटे हुए हैं। पी चिदंबरम से बड़ा अपराध उनके राजनीतिक आका राहुल गांधी का है जो सब कुछ जानते हुए भी अनजान बनने की कोशिश कर रहे हैं। हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि पाकिस्तान में जिस प्रकार वहां की सुप्रीम कोर्ट ने विदेशों में काला धन और संपदा छुपाने वाले नवाज शरीफ को न केवल सत्ता छोड़ने के लिए मजबूर किया बल्कि अनेक वर्षों के लिए चुनाव लड़ने से भी प्रतिबंधित कर दिया, ठीक वही हालात कांग्रेस पार्टी के बड़े नेताओं के लिए भारत में बनने जा रहे हैं। कांग्रेस नवाज शरीफ जैसे विकट समय का सामना करने की दिशा में बढ़ रही है और आए दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर बेतुके सवाल उछालने वाले कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष को बचाव का रास्ता मिलने की कोई उम्मीद नहीं है। पत्रकारों के सवालों के जवाब में भाजपा नेता वीरेंद्र सिंह ने कहा कि केंद्र की सरकार देश के उन 18000 गांव में बिजली पहुंचाने में कामयाब हुई है जो 70 साल के स्वतंत्र भारत में रोशनी के इस अधिकार से वंचित रहे। उन्होंने निर्धारित समय सीमा में देश के प्रत्येक गांव में बिजली पहुंचाने की उपलब्धि को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल और कड़क नेतृत्व का प्रमाण दिया। वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि यूपीए के कार्यकाल में देश में प्रतिदिन राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण की गति यदि औसतन 2 से 3 किलोमीटर के बीच में थी तो आज यह आंकड़ा 30 किलोमीटर प्रति दिन से अधिक हो गया है। आधारभूत संरचना के मामले में अच्छे दिनों का इससे बड़ा प्रमाण भला क्या हो सकता है। उन्होंने दावा किया कि हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अगवाई में पारदर्शी और ईमानदार शासन व्यवस्था देने में भारतीय जनता पार्टी ने कामयाबी हासिल की है। हरियाणा का सड़क तंत्र भी तेज गति से सुधरा है। प्रदेश के नौजवानों में सरकारी तंत्र के प्रति विश्वास बहाल हुआ है क्योंकि अब हरियाणा में सरकारी नौकरियां मुख्यमंत्री की जाति या जिला अथवा नोटों का भरा झोला देखकर नहीं बांटी जाती। प्रोफेसर चौहान ने कहा कि प्रतिपक्षी दलों के सुलझे हुए नेता भी दबे स्वर में और ऑफ द रिकॉर्ड इस ऐतिहासिक बदलाव की तारीफ किए बिना नहीं रह पाते। इस अवसर पर अरूण कंसल शाहाबाद मण्डल अध्यक्ष, कर्णराज तूर प्रदेश प्रवक्ता किसान मोर्चा, बलदेवराज चावला नगरपालिका चैयरमेन, बलदेवराज सेठी पार्षद, रविदत्त शर्मा मण्डल महामन्त्री, नीटू राणा मण्डल महामन्त्री, अमरजीत डांगी प्रदेश सचिव ओबीसी मोर्चा, डॉ देसराज जिलामहामंत्री ओबीसी मोर्चा, सचिन युवा मोर्चा अध्यक्ष मौजूद रहे।