• 5/25/2018

मुख्य खबर

Share this news on

सरकारी विद्यालयों में पुस्तकालयों की स्थापना की दिशा में पहलकदमी आवश्यक: प्रो चौहान

Manoj Sharma

/

5/17/2018 12:40:42 AM

करनाल, 16 मई। हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष एवं ग्रामोदय अभियान के संयोजक प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा है कि विद्यार्थियों में पुस्तकों के प्रति लगाव और स्वाध्याय का संस्कार विकसित किया जाना बहुत आवश्यक है। विद्यालयों में व्यवस्थित और साधन संपन्न पुस्तकालयों की स्थापना इस कार्य में महती भूमिका अदा कर सकती है। प्रोफेसर चौहान राज्य के सरकारी विद्यालयों में पुस्तकालयों की स्थापना और पुस्तकालय अध्यक्षों की नियुक्ति के संबंध में मांग पत्र के साथ उन्हें मिलने आए हरियाणा पुस्तकालय संघ के प्रतिनिधियों से संवाद कर रहे थे। पुस्तकालय संघ के सदस्य संदीप वत्स, प्रदीप बेनीवाल, प्रमोद वत्स, संदीप, राकेश कुमार, प्रमोद ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा. हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष ने कहा कि यह निर्विवाद सत्य है कि अच्छी पुस्तकों से बढ़कर किसी भी व्यक्ति का कोई मित्र नहीं हो सकता। मानव रूपी मित्र तो कभी ना कभी पटरी से उतर कर मित्र को धोखा दे सकता है मगर अच्छी पुस्तकों का साथ कभी भी घाटे का सौदा साबित नहीं होता। चौहान ने कहा कि नई पीढ़ी में किताबों के प्रति और स्वाध्याय को लेकर रुझान का घटना चिंता का विषय है। स्वाध्याय के प्रति स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थियों को नए सिरे से संस्कारवान और संजीदा बनाने के लिए हर प्रकार के प्रयास होना समय की आवश्यकता है। इसलिए हरियाणा पुस्तकालय संघ की सरकारी विद्यालयों में सुसज्जित पुस्तकालय की स्थापना और पुस्तकालय अध्यक्षों की नियुक्ति की मांग तर्कसंगत है। प्रोफ़ेसर चौहान ने कहा कि वह हरियाणा पुस्तकालय संघ के मांग पत्र में उठाए गए सभी मुद्दों को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा के संज्ञान में लाते हुए त्वरित और प्रभावी हस्तक्षेप की वकालत करेंगे।   मांग पत्र में कहा गया है कि जैसे केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के विद्यालयों और केंद्रीय विद्यालयों में व्यवस्थित पुस्तकालय स्थापित हैं, ठीक वैसी ही स्थिति हरियाणा के राजकीय विद्यालयों में भी जल्द बनाई जानी चाहिए। ज्ञापन में कहा गया है कि पुस्तकालय विज्ञान का अध्ययन कर इसमें स्नातक और परास्नातक उपाधियां प्राप्त करने वाले हरियाणवी नौजवान प्रदेश में ही रोजगार के अवसरों की प्रतीक्षा में हैं और सरकारी विद्यालयों में पुस्तकालय बनने से उनके कल्याण का मार्ग भी प्रशस्त होता है।इस अवसर पर ग्रामोदय अभियान के खंड संयोजक संदीप गोल्ली , प्रदीप बैनीवाल, सतीस कुमार, प्रयास शर्मा, रोशन, कृष्ण रंगा, प्रमोद मडाड,  संदीप सैनी प्रमोद सैनी,पवन नैन, कृष्ण पांचाल,बलिंद्र अहलावत, विरेद्र खत्री,अनिल रोहिला,संदीप रोहिला संदीप मडाड,सोनू, रेखा रानी, सुनील, पूनम, मनीस, सुमीत, बिटटू, मोहन मलिक व गुरदेव  सिह उपस्थित रहे।