• 6/23/2018

मुख्य खबर

Share this news on

उत्तर रेलवे ने टिकट जाँच अभियान चलाया, करोड़ों की हुई वसूली

Rajan

/

5/30/2018 9:07:54 PM

नई दिल्ली, 30 मई। उत्तर रेलवे ने दिनांक 18.05.2018 से एक माह तक चलने वाले गहन टिकट जाँच अभियान की शुरूआत की है । इस अभियान का उद्देश्य ऐसे सेक्शनों और रेलगाड़ियों में अनारक्षित श्रेणियों में बिना टिकट यात्रा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना जहां यात्री यातायात और टिकटों की बिक्री में उल्लेखनीय कमी देखी गयी है । मार्ग में पड़ने वाले ठहरावों पर मेल/एक्सप्रेस/पैसेंजर और ईएमयू/डीईएमयू रेलगाडियों में टिकट जाँच कर्मचारियों, रेल सुरक्षा बल और अधिकारियों द्वारा घेराबंदी करके और आकस्मिक रूप से गहन जाँच की जा रही है । दिनांक 19.05.2018 से 28.05.2018 तक की अवधि के दौरान चलाए गए अभियान के परिणामस्वरूप कुल 71609 बिना टिकट/अनियमित टिकटों पर यात्रा करने के मामले पकड़ में आए उनसे 3.52 करोड़ रूपये वसूल किए गए । इसके अंतर्गत बिना टिकट यात्रा करने वाले 17706 यात्रियों से 1.08 करोड़ रूपये और अनियमित टिकटों पर यात्रा करने वाले 52903 रेलयात्रियों से 2.44 करोड़ रूपये वसूल किए गए । इस अभियान के दौरान कुल 2992 टिकट जाँच कर्मचारियों और 140 रेल सुरक्षा बल के जवानों को लगाया गया था। प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर घेराबंदी वाली जाँचः दिनांक 22.05.2018 को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर एक बड़ी घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 111 टिकट जाँच कर्मचारियों और रेल सुरक्षा दल के 15 जवानों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 3272 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 14,78,690/- रूपये वसूल किए गए । दिनांक 24.05.2018 को दिल्ली जं0 रेलवे स्टेशन पर एक घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 109 टिकट जाँच कर्मचारियों और रेल सुरक्षा दल के 19 जवानों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 3775 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 17,00,550/- रूपये वसूल किए गए । दिनांक 27.05.2018 को लुधियाना रेलवे स्टेशन पर एक घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 20 टिकट जाँच कर्मचारियों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 250 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 1,21,550/- रूपये वसूल किए गए । दिनांक 28.05.2018 को मुरादाबाद रेलवे स्टेशन पर एक घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 72 टिकट जाँच कर्मचारियों और रेल सुरक्षा दल के 04 जवानों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 1739 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 6,75,490/- रूपये वसूल किए गए । दिनांक 26.05.2018 को लखनऊ रेलवे स्टेशन पर एक बड़ी घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 66 टिकट जाँच कर्मचारियों और रेल सुरक्षा दल के 11 जवानों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 2046 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 9,94,990/- रूपये वसूल किए गए । दिनांक 25.05.2018 को अम्बाला रेलवे स्टेशन पर एक बड़ी घेराबंदी जाँच की गयी जिसमें 84 टिकट जाँच कर्मचारियों और रेल सुरक्षा दल के 14 जवानों को लगाया गया । बिना टिकट यात्रा करने वाले 1067 लोगों से किराये और जुर्माने के रूप में 4,74,480/- रूपये वसूल किए गए । बिना टिकट यात्रा करने वालों के खिलाफ लुधियाना-जलंधर-पठानकोट, अम्बाला-लुधियाना, लखनऊ-उन्नाव, ग़ाज़ियाबाद-मुरादाबाद और ओखला-शिवाजी ब्रिज-तिलक ब्रिज जैसे सेक्शनों पर आकस्मिक जाँच का आयोजन किया गया जिसमें बिना टिकट यात्रा करने, अनियमित टिकटों एवं बिना बुक किए सामान को ले जाने के 1272 मामलों में से 4,75,990/- रूपये वसूल किए ।