• 8/22/2018

मुख्य खबर

Share this news on

वर्तमान गतिविधियों को बढ़ाकर बहुउद्देषीय गतिविधियों में बदलना होगाः नवराज संधु

Manoj Sharma

/

6/1/2018 12:02:37 AM

चंडीगढ 31 मई। हरियाणा सहकारिता विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव, नवराज संधु ने प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों से आह्वान करते हुए कहा कि उन्हें अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए अपनी वर्तमान गतिविधियों को बढ़ाकर बहुउद्देषीय गतिविधियों में बदलना होगा जिससे वे अपने सदस्यों को अधिक से अधिक सेवाएं प्रदान कर लाभान्वित कर सकें। संधु हरकोफैड द्वारा सहकारिताओं के एकीकृत विकास व सहकारी समितियों को बहुउद्दषीय समितियों में बदलना विषय पर पंचकूला में आयोजित एक दिवसीय कार्यषाला कार्यषाला को संबोधित कर रही थी। उन्होंने बैंक व विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों के लिए कृषि एवं बागवानी विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को अपनाकर उन्हें लागू करवाने के लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य करे ताकि पैक्सों सहित उनके किसान सदस्यों को लाभान्वित किया जा सके। कार्यशाला में उपस्थित प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए हरकोफैड के चेयरमैन, रामेश्वर चौहान ने कहा कि यह कार्यक्रम कृषि एवं किसान कल्याण विभाग व बागवानी विभाग द्वारा किसानों के लिए चलाई जा रही योजनाओं से अधिकारियों व कर्मचारियों को अवगत करवाने के लिए आयोजित किया गया है ताकि प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों को बहुउद्देषीय समितियों में बदलकर हमारे प्रधानमंत्री जी के किसानो की आय को दुगुनी करने के सपने को साकार किया जा सके। कार्यक्रम में कृषि व किसान कल्याण विभाग के महानिदेषक डी.के. बेहरा ने केन्द्र सरकार द्वारा नई केन्द्रीय सैक्टर स्कीम ’’प्रोमोषन ऑफ एग्रीकल्चरल मैकेनाईजेषन फॉर इन-सीटू मैनेजमैन्ट ऑफ क्रोपरैजीडयू के बारे में जानकारी दी। उन्होनें कहा कि  किसानों के समूह, किसानों की सहकारी सोसाइटियों, एफ पी ओ, स्वयं सहायता समूह, रजिस्टर्ड किसान सोसाइटी/किसान समूह, प्राईवेट उद्यमी, महिला किसान समूहों या स्वयं सहायता समूहों को परियोजना लागत के लिए वितीय सहायता प्रदान की जाएगी।   कार्यक्रम में रजिस्ट्रार, सहकारी समितियां श्री भूपिन्दर सिंह, प्रबन्ध निदेषक, हरकोबैंक श्री मनोज बंसल, व क्षेत्रीय निदेषक, एन.सी.डी.सी. श्री अनिरूद्ध सिंह ने भी उपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्बोधित किया। इस अवसर पर प्रबन्ध निदेषक, हरकोफैड सुश्री पूनम नारा ने विभाग अधिकारियों को अपने-अपने विभागों द्वारा किसान कल्याण हेतु चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देने के लिए व अधिकारियों व कर्मचारियों का कार्यक्रम में भाग लेने के लिए धन्यवाद किया।