• 12/14/2018

मुख्य खबर

Share this news on

सुदृढ समाज के निर्माण के लिए सरकार की नीतियों व कार्यक्रमों का प्रचार करों: मनोहर लाल खट्टर

Rohit Aswal

/

6/30/2018 8:24:20 PM

चण्डीगढ, 30 जून। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सरकारी अधिकारियों से कहा की वे सरकार की नीतियों व कार्यक्रमों के सामाजिक अभियानों व कार्यक्रमो का भी प्रचार प्रसार करें ताकि सुदृढ समाज का निर्माण हो। मनोहर लाल आज गुरूग्राम में सूचना जनसम्पर्क व भाषा विभाग के अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। इस बैठक में उन्होनें अधिकारियों की पीठ थपथपाई तथा शाबाशी दी। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने रूटीन कार्यों के साथ-साथ समाजिक कार्यक्रमों का भी प्रचार प्रसार कर रहे हैं जिससे समाज को लाभ हो रहा है। उन्होंने सूचना जनसम्पर्क विभाग के उप निदेशक सतीश मेहरा द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान को आगे बढाने के सुझावों की मुक्तकंठ से प्रशंसा की। उन्होंने सोशल मीडिया पर बनाए व्हाट्सएप ग्रुप की गतिविधियां को सराहा और कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढाओ जैसे अभियान के साथ जन-जन को जुड़ना चाहिए ताकि लिगांनुपात में सुधार हो। मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर दिए गए सुझावों पर सकारात्मक विचार करने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 21 जनवरी, 2015 को जब पानीपत की ऐतिहासिक धरा से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के 100 जिलो में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ राष्ट्रव्यापी अभियान की शुरूआत की थी कि तो उस समय हरियाणा में लिंगानुपात एक हजार लडकों के पीछे 831 लड़कियों का था जो मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पहल पर सरकारी प्रयासों के साथ-साथ सामाजिक संगठनों व प्रबुद्ध लोगों के सहयोग से बढ़कर 931 तक पहुंच गया है और मुख्यमंत्री का लक्ष्य इसे 950 से ऊपर ले जाना है। उप निदेशक सतीश कुमार मेहरा ने मुख्य मन्त्री को बताया कि सोशल मीडिया पर उन अभिभावकों का ग्रुप बनाया गया है जिनके परिवार में सिर्फ बेटियां है। उन्होंने कहा कि जिन बहनों के भाई नहीं है। उन्हें राज्य व केन्द्र सरकार की नौकरियों व शिक्षण संस्थाओं के दाखिलों में श्रेणीवार एक प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जाए। जिन सरकारी कर्मचारियांे (दम्पति) की औलाद केवल लड़कियां है उन कर्मचारियों की सरकारी सेवानिवृति की सीमा 58 वर्ष से बढ़ाकर 62 वर्ष की जानी चाहिए ताकि ऐसे माता-पिता अपनी लड़कियों को पढ़ा-लिखा कर अपने पैरांे पर खड़ा कर सकें। इसके साथ-साथ वे बहनें जिनका सगा भाई नहीं है और किसी भी सरकारी व गैर सरकारी संस्थान में पढ़ाई कर रही हैं उनकी पूरी फीस माफ की जाए। सरकार द्वारा छात्रवृति भी दी जाए। सोशल मीडिया ग्रुप द्वारा मांग की गई है कि बिना भाई वाली लड़कियों की सरकारी क्षेत्र में नौकरी के लिए आवेदन करने की आयु सीमा 45 वर्ष हो। इसके अलावा किसी भी शिक्षण संस्थान में पढ़ने वाली लड़कियों को सरकार द्वारा शिक्षा भत्ता दिया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि ग्रुप पर आए सुझावों को मांगो के रूप मे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी व महिला एवम् बाल विकास मंत्री मेनका संजय गांधी को भेजा है ताकि देश व प्रदेश स्तर पर इन सुझावों को लागू किया जा सके। हरियाणा सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के दो उप निदेशक नामतः सतीश मेहरा व बहादुर लाल धीमान द्वारा यह पहल की गई है। इस गु्रप ने हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, ओपी धनखड़, महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन को भी ज्ञापन सौंपकर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान में कुछ और ठोस कदम उठाने की मांग की है। विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा भी इस पहल की सराहना की गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ राष्ट्रव्यापी अभियान की सफलता के बाद केवल बेटियों वाले अभिभावकों ने सोशल मीडिया पर व्हाट्सएप ग्रुप पर सुझाव मांग कर लड़कियों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने की नई पहल की है। इसकी सराहना हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी व अन्य कई मत्रिंयों ने भी की है। इस ग्रुप ने अब अपनी गतिविधियों की जानकारी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका संजय गांधी को भी प्रेषित की है। उन्होने बताया कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के बाद हरियाणा में अब बेटी खिलाओ अभियान की भी शुरूआत की गई है। इसें तहत प्रथम गल्र्स अन्तर्राष्ट्रीय 20-20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन पंचकूला में 21 से 24 मई, 2018 तक करवाया गया। हरियाणा की लड़कियां ओलम्पिक, एशियन व राष्ट्रमंडल खेलों में पहले की देश का नाम रोशन कर चुकी हैं। इस व्हाट्सएप ग्रुप पर प्राप्त सभी सुझाव न केवल बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने में मदद करेंगे बल्कि हरियाणा राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के सफल कार्यान्वयन के बाद लड़कियों को सशक्त बनाने के लिए देश के सामने एक और उदाहरण भी प्रस्तुत करेगा। प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने हाल ही में हरियाणा की सीमा के लगते राजस्थान के झुंझुनू जिले से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ो अभियान के दूसरे चरण की शुरूआत की है। इस मौके पर सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा के प्रधान ओ एस डी नीरज दफ्तार, मुख्यमंत्री के मीडिया एडवाईजर राजीव जैन, विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद रहे।