• 7/23/2018

मुख्य खबर

Share this news on

लागत पर 50 फ़ीसदी मुनाफे का निर्णय युग परिवर्तक: प्रो. चौहान

Varsha

/

7/9/2018 8:53:58 PM

समालखा, 9 जुलाई। हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष और ग्रामोदय अभियान के संयोजक प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा है कि आजादी के बाद पहली बार देश में किसानों को लाभकारी मूल्य देने की शुरुआत कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक युग परिवर्तक कदम उठाया है। देश के प्रधानमंत्री और उप प्रधानमंत्री पद तक पहुंचे कृषक परिवारों के बेटे भी अपने कार्यकाल में ऐसा नहीं करवा पाए थे। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक से लौटते हुए यहां लड़सोली विश्राम गृह में रुके प्रोफेसर चौहान ने एक वक्तव्य में कहा कि अब तक देश में कृषि को और किसान को लाभकारी मूल्य देने की बात सरकारी तंत्र को हजम ही नहीं हो पाती थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्र सरकार ने इस सिलसिले में जो शुरुआत की है उसके चलते भारत में किसानों की आर्थिक स्थिति में सकारात्मक बदलाव का एक प्रभावी सिलसिला शुरू हो गया है। प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि 2014 में भारतीय जनता पार्टी के घोषणा पत्र में किसानों को उनकी लागत से 50 फ़ीसदी अधिक समर्थन मूल्य प्रदान करने की बात कही गई थी। आजादी के बाद से अब तक चली आ रही समर्थन मूल्य तय करने की प्रणाली में ऐसा करना लगभग असंभव था। तमाम जटिलताओं के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी टीम ने देश के अन्नदाता के हित में अंगद की भांति पंजा जमाने का जो निर्णय लिया उसी के कारण केंद्र सरकार 14 फसलों के समर्थन मूल्य में स्वाधीनता प्राप्ति के बाद से अब तक की सर्वाधिक वृद्धि घोषित कर पाई। प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि जो विपक्षी केंद्र सरकार के किसान हितेषी फैसले के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं उन्हें पहले यह बताना चाहिए कि उनके कार्यकाल में यह अच्छी शुरुआत क्यों नहीं हो पाई। चौहान ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें तो कांग्रेस के शासनकाल में छह-सात साल तक खूंटी पर टंगी रही। उन्हें लागू करने के लिए उस समय की कांग्रेसी सरकार ने तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की अगुवाई में एक और कमेटी बैठा दी थी। भारतीय जनता पार्टी द्वारा उठाए गए अच्छे कदम की सराहना करने में जिन भूपेंद्र सिंह हुड्डा का गला सूख रहा है उन्हें पहले यह भी बताना पड़ेगा की उनके रहते हुए लाभकारी मूल्य देने की बात दो कदम भी आगे क्यों नहीं बढ़ पाई। भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा किसानों के साथ भावनात्मक खिलवाड़ किया है। गरीब गरीब रहे और किसान के हाथ सदा याचना के लिए फैले रहे, कांग्रेस ने हमेशा यह सोचकर ही सरकारी नीतियों का निर्माण किया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हरियाणा की प्रदेश कार्यसमिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके साहसिक और किसान हितेषी कार्यों के लिए उन्हें किसान रत्न की उपाधि से नवाजे जाने की बात कही गई। प्रोफेसर वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि सरकार ने समर्थन मूल्य को लेकर जो निर्णय लिया है उससे देश में फसलों के विविधीकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। चौहान ने कहा कि राज्य सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई में केंद्र द्वारा घोषित नई नीति के अनुसार फसल की खरीद की पुख्ता व्यवस्था करने के लिए मुस्तैदी से कार्य करेगी।