• 12/14/2018

मुख्य खबर

Share this news on

स्के मार्शल आर्ट चैंपियनशिप में कार्तिक एन पुजारी व श्वेता पंडित प्रथम

Image

Apurv

/

9/22/2018 8:37:41 PM

चंडीगढ़ 22 सितंबर। मनीमाजरा के स्पोर्ट्स कंपलेक्स में स्के फैडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वाधान में स्के एसोसिएशन ऑफ चंडीगढ़ की ओर से 19वीं राष्ट्रीय स्के चैंपियनशिप कैडेट एवं सब जूनियर में विभिन्न कैटेगिरी में मुकाबले हुये। इन मुकाबलों में 34 किलोग्राम भार से कम में कार्तिक एन पुजारी गोवा प्रथम, आरव बारिक अंडोमान निकोबार द्वितीय, मोहम्मद अरफत तृतीय, मोलिक कंबोज और 30 किलो में श्वेता पंडित प्रथम, नव्या हिमाचल से द्वितीय, सुमिक्षा तृतीय, भाविका गोपालनी तृतीय स्थान पर बाजी मारी। इस अवसर पर चीफ गेस्ट द जाट समाज कल्याण परिषद हरियाणा के उपप्रधान समाजसेवी चौधरी अमन बोपाराय ने विजेताओं को पुरस्कृत किया। एसोसिएशन के प्रधान विजय ठाकुर, महासचिव गुरदीप खोखर ने चीफ गेस्ट चौ. अमन बोपराय को बताया कि भारत सरकार की ओर से एक भारत-श्रेष्ट भारत के तहत 12 खेलों को शामिल किया है। इस दौरान स्के फैडरेशन ऑफ इंडिया के प्रधान डा. वसीर एवं महासचिव ग्रेंड मास्टर नजीर अहमद मीर, उपप्रधान हरीश कुमार, उपप्रधान काशी नाथ नायक, अस्सिटेंट सेक्रेटरी मजर खान भी उपस्थित रहे। हरीश कुमार ने बताया कि 43 किलो में गीता के नायक प्रथम, कले सरोपे द्वितीय, दुरगना यूसफ एवं प्रतिक्षा शर्मा तृतीय, 23 किलो से तनीत मुस्तफा प्रथम, अरताय एस हिने द्वितीय, उन्नति शालिनी एवं निमरत कौर तृतीय, ओपन गल्र्स अंडर 11 में महक प्रथम, मानसी नायक द्वितीय, क्वीन राफिक एवं सोनल अग्रवाल तृतीय रहे। चौ. अमन बोपाराय ने आयोजक टीम के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि स्के मार्शल आट्र्स भारत का खेल है और स्के फैडरेशन ऑफ इंडिया एवं स्के एसोसिएशन ऑफ चंडीगढ़ द्वारा इस खेल को बढ़ावा देने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी गई। इस प्रतियोगिता में पूरे भारत से 400 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। प्रतियोगिता में 23 राज्य के खिलाड़ी अपना दम दिखाने पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि इस खेल को ओलंपिक में शामिल करवाने के लिए हम सभी को संयुक्त तौर पर प्रयास करने होंगे। भारत सरकार द्वारा देश में क्रिकेट के अलावा अन्य खेलों को भी पहचान देने के लिए कदम उठाये गये हैं। देश में कई खेल हैं, लेकिन उन्हें बढ़ावा देने की जरूरत है। इसके लिए जिले स्तर पर प्रतिभाओं की पहचान की जानी बहुत जरुरी है।