• 12/4/2020
ad
Latest News

मुख्य खबर

Share this news on

अपनी पार्टी की गुटबाजी का ठीकरा अधिकारियों पर फोड़ना बंद करे अरुण सूद: कांग्रेस

Image

M.J. Khan

/

10/23/2020 2:47:19 PM

चंडीगढ़, 23 अक्टूबर । आज विभिन्न अखबारों में बीजेपी के अध्यक्ष अरुण सूद व अन्य नेताओं के नगर निगम आयुक्त व अधिकारियों पर भ्रष्टाचार व मनमाने काम करने के आरोपों के बयान पर चंडीगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा, पार्षद दविंदर सिंह बबला, शिलाफुल सिंह, सतीश केंथ, गुरबख्श रावत, रुपिंदर गुजराल, के संयुक्त बयान में बीजेपी अध्यक्ष अरुण सूद व बीजेपी के पार्षदों को आड़े हाथों लेते कहा कि अधिकारियों पर आरोप लगाने से पहले अरुण सूद व उनके पार्षद अपने गिरेबांन में झांके। अरुण सूद ये बताएं कि उनके एरिया के कम्यूनिटी सेंटर में महंगे झूमर में भ्रष्टाचार का आरोप किस पर लगा था? पार्षदों व अधिकारियों के टूर में किसके नजदीकी रिश्तेदारों से टिकटों का आरोप लगा था? पार्षद भरत कुमार, दलीप कुमार व डिप्टी मेयर जगतार सिंह जग्गा पर किस तरह के भ्रष्टाचार का आरोप लगे थे? किसी नेता की ऑडियो तो किसी की वीडियो वायरल हुई थी? अरुण सूद अपनी पार्टी की गुटबाजी का ठीकरा अधिकारियों पर फोड़ना बंद करें। मेयर राजबाला मलिक अगर अपनी पार्टी के अध्यक्ष व पार्षदों की बात नही सुनती जोकि जगजाहिर है उसकी खुन्नस अधिकारियों पर निकाल कर अरुण सूद व उनके पार्षद अपनी नाकामियों को छुपा नही सकते है। बिना बजट के प्रावधान के गांवों को नगर निगम में शामिल करने फैसला किस का था? आज दर दर भटक रहे वेंडर्स का जिम्मेदार कौन है? शहर की दुर्दशा का जिम्मेदार कौन है? टैक्सों व बिजली/पानी की दरों में बढ़ोतरी का एजेंडा लाने व पास करने वाले कौन है? केंद्र से सांसद किरण खेर का बजट लाने में नाकामी के क्या जिम्मेदार कमिश्नर व अधिकारी है? आज केंद्र से लेकर चंडीगढ़ नगर निगम में पूर्ण बहुमत में जो पार्टी हो वो कहे कि कमिश्नर व अधिकारी उनकी सुनते नही है व मनमानी करते है ऐसी बातों से बीजेपी के नेता जगहँसाई के पात्र बन कर रहे गए है।